Successfully reported this slideshow.
We use your LinkedIn profile and activity data to personalize ads and to show you more relevant ads. You can change your ad preferences anytime.
अबुर् अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्र)
यिद िकसी को कै ंसर हो जाता है तो वह कभी ई�र क, कभी कै ंसर को या अपनी िकस्मत को कोसनाशु� क
दे...
जरा सोिचये, क्यों आपका ट्यूमर िनरंतर बढ़ता ही जा रहा ? यह ट्यूमर आप स्वयं ही तो हैं। आप ही वह शख्स
जो यह िनणर्य करता है िक ...
अबुर् अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्र)
ई�र को सा�ी मान कर मुख्य प�का
श्र............................................. पुत/पुत्री .....
पृ� संख्या- 2
(1)
अबुर्द यह वचन देता है िक वह िसकुड़ कर इतना सू�म बन जायेगा िक वह दूसरे प� को  िदखाई भी
नहीं देगा और उसके श...
पृ� संख्या- 3
...............................................................................................................
Upcoming SlideShare
Loading in …5
×

1

Share

Download to read offline

Tumor contract

Download to read offline

अर्बुद अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्रेक्ट)

यदि किसी को कैंसर हो जाता है तो वह कभी ईश्वर को, कभी कैंसर को या अपनी किस्मत को कोसना शुरू कर देता है। लेकिन यह तो गलत बात है। बेहतर यही है कि आप स्थिति को सहज रूप से स्वीकार करें और अपने विवेक से समुचित उपचार करें। क्यों न आप अपने ट्यूमर से एक आपसी समझौता करने की बात कहें। एक ऐसा समझोता जिसमें दोनों का ही फायदा हो। इसमें आपको अपने आप से एक विधिवत अनुबंध करना पड़ेगा। इस अनुबंध का पहला पक्षकार भी आप हैं अर्थात जो आप आज हैं और दूसरा पक्षकार भी आप ही हैं, लेकिन जो आप आज से 12 महीने बाद होंगे। सुनने में यह बहुत अजीब पागलपन लगता हैं कि हम आपको आप से ही एक अनुबंध करने की बात कह रहे हैं। लेकिन आप याद करने की कौशिश कीजिये, शायद कभी आपने जीवन में इससे भी बड़े कई पागलपन किये होंगे।
इस अनुबंध को बनाने से पहले आपको अपने ट्यूमर से खुल कर बात करना जरूरी है, आखिर वह भी तो आपके ही शरीर का हिस्सा है। उसे स्पष्ट समझाइये कि उसका इस तरह बढ़ना आपके स्वास्थ्य के लिए खतरे की बात है, इस तरह तो आपकी मृत्यु भी हो सकती है। यदि आपकी मृत्यु होती है तो उसकी भी मृत्यु निश्चित है। यह बात ट्यूमर को स्पष्ट समझाना बहुत जरूरी है। उससे कहिये कि इससे अच्छा तो यह होगा कि वे एक ऐसा समझौता करलें जिसमें दोनों ही पक्षों का ही फायदा हो और दोनों ही स्वस्थ और निरोगी जीवन जी सकें।
इस अनुबंध में तीन अनुच्छेद होंगे। और इस अनुबंध की भूमिका में आप यह वचन देगे कि अगले तीन महीनें में आप अपने जीवन में क्या बदलाव लोयेंगे। जिनको आप अनुबंध के दूसरे अनुच्छेद में लिखेगे। अनुबंध पर हस्ताक्षर करने से पहले आप अपनी बेलेंस शीट, जेफरसन टेस्ट और अपनी डिजायर लिस्ट का एक बार पुनः अवलोकन कर लें। ये आपको उन कार्यो को चुनने में बहुत मदद करेंगे, जो आप अपने जीवन में करन

Related Books

Free with a 30 day trial from Scribd

See all

Related Audiobooks

Free with a 30 day trial from Scribd

See all

Tumor contract

  1. 1. अबुर् अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्र) यिद िकसी को कै ंसर हो जाता है तो वह कभी ई�र क, कभी कै ंसर को या अपनी िकस्मत को कोसनाशु� क देता है। लेिकन यह तो गलत बात है। बेहतर यही है िक आप िस्थित को सहज �प से स्वीकार करें और अप िववेक से समुिचत उपचार करें। क्यों आप अपने ट्यूमर से एक आपसी समझौता करने क� बात कहे। एक ऐसा समझोता िजसमें दोनों का ही फायदा हो। इसम आपको अपने आप से एक िविधवत अनुबंध करना पड़ेगा। इस अनुबंध का पहला प�कार भी आप हैं अथार्त जो आप आज हैं और दूसरा कार भी आप ही है, लेिकन जो आप आज से 12 महीने बाद होंगे। सुनने में यह बह�त अजीब पागलपन लगता हैं िक हम आपको आप से ही एकअनुब करने क� बात कह रहे हैं। लेिकन आप याद करने क� कौिशश क�िजये, शायद कभी आपने जीवन में इससे भी बड़े कई पागलपन िकये होंगे। इस अनुबंध को बनाने से पहले आपको अपने ट्यूमर से खुल कर बात करना ज�री है, आिखर वह भी तो आपके ही शरीर का िहस्सा है। उसे स्प� समझाइये िक उसक इस तरह बढ़ना आपके स्वास्थ्य के िलए खतरे क� बात, इस तरह तो आपक� मृत्यु भी हो सकती है। यिद आपक� मृत्यु होती है तो उसक� भी मृत्यु िनि�त है। यह बा ट्यूमर को स्प� करना बह�त ज�री है। उससे किहये िक इससे अच्छा तो यह होगा िक वे एक ऐसा समझौता करले िजसमें दोनों ही प�ों का ही फायदा हो और दोनों स्वस्थ और िनरोगी जीवन जी सक इस अनुबंध में तीन अनुच्छेद होंगे। और इसअनुबंध भूिमका में आप यह वचन देगे िक अगले तीन महीनें में अपने जीवन में क्या बदलाव लोयेंगे। िजनको आपअनुब के दूसरे अनुच्छेद में िलखेगे। अनुबंध पर हस्ता�र करने से पहले आप अपनी बेलेंस, जेफरसन टेस्ट और अपनी िडजायर िलस्ट का एक बार पुनः अवलोकन कर लें। ये आपको उन काय� कोचुनने में बह�त मदद कर, जो आप अपने जीवन में करना चाहते हैं। कृपया इस अनुबंध को बह�त गंभीरता से लेना है और इसमें िलखी ह�ई शत� प100 % अमल करना है। यह बह�त ही ज�री है, वनार् ट्यूमर भी उसके िहस्से क� शत� पर अमल नहीं करेग लोथर कहते हैं िक उन्हें इसअनुबंध के बह�त सकारात्मक प�रणाम िमले हैं। वे इस उपचार पर िजतना अिधक कर रहे है, उतना ही उन लोगों के मन में होने वाले बदलाव को समझनासुगम होता जा रहा , जो गंभीरता से इस तरह का अनुबंध करते हैं।
  2. 2. जरा सोिचये, क्यों आपका ट्यूमर िनरंतर बढ़ता ही जा रहा ? यह ट्यूमर आप स्वयं ही तो हैं। आप ही वह शख्स जो यह िनणर्य करता है िक आपके शरीर में क्या क्या होन, चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक हो। आपक ट्यूमर में िसफर् िनरंतर बढ़ने क� ही �मता , यिद आप िव�ास करते हैं िक आपके शरीर के कुछ बुरी कोिशकाएं बन चुक� हैं जो अपना जीवन एक अलग तरीके से िजये जा रही हैं। लोथर कहते हैं िक आपके शरीर में िस्थत ट्यूमर कोई दूसरी शिख्सयत नह, बिल्क वह तो आपके ही शरीर का एक िहस्सा ह, दुभार्ग्यवश िजसक� बह�त उपे�ा ह�ई है। यह िबलकुल वैसी ही िस्थित है जैसे एक बड़े प�रवार में ि सदस्य पर अन्य लोग ध्यान देना बंद कर देते हैं और वह िबलकुल अलग थलग पड़ जाता है। ट्यूमर के साथ यही होता है, और वह अपनी तौहीन का बदला लेने तथा सबका ध्यान आकिषर्त करने के िलए एक बागी क� तर व्यवहार करने लगता ह, अिनयंित्रत �प से बढ़नाशु� कर देता है नीचे हम अबुर्द अनुबंध का एक नमूना दे रहे हैं। आप इसमें आवश्यक शत� िलख कर हस्ता�र करें। आप चा अपना अनुबंध खुद भी बना सकते हैं। यह अनुबंध आपके िलए बह�त ज�री ह, इस पर मनन करने के िलए पयार्� समय िनकालें। कम से कम एक रात इसे अपने िबस्तर के नीचे ज�र रख कर सोये
  3. 3. अबुर् अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्र) ई�र को सा�ी मान कर मुख्य प�का श्र............................................. पुत/पुत्री ...............…………. िलंग .........उम्….… और उनके शरीर में िस्थत ट्यूमर तथा मेटास्टेि अपने पूरे होशोहवास में िनम्न अनुबंध करते ह भूिमका दोनों प� इस अनुबंध में िलखी गई हर शतर् को मानने के िलए बाध्य रहेंगे। इनको मानने में दोन का स्वास्थ्य और खुशहाली िनिहत ह
  4. 4. पृ� संख्या- 2 (1) अबुर्द यह वचन देता है िक वह िसकुड़ कर इतना सू�म बन जायेगा िक वह दूसरे प� को िदखाई भी नहीं देगा और उसके शरीर में कोई िवक, ददर, मेटास्टेिसस या िकसी भी तरह का कोई उत्पात नह मचायेगा। (2) अनुबंध का मुख्य प�कार श्...................................... ई�र का हािजर नािजर मान कर वचन देता है िक वह अपने जीवन में िनम्न बदलाव लायेगा और इसके िलए अपनी पूरी ऊजार् लगा देगा आज से वह जीवन में िनम्न बदलाव लायेग .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. हस्ता�र मुख्य प�क आज से 14 िदन बाद वह जीवन में िनम्न बदलाव लायेगा .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. हस्ता�र मुख्य प�क आज से तीन महीने बाद वह जीवन में िनम्न बदलाव लायेगा .................................................................................................................................. ..................................................................................................................................
  5. 5. पृ� संख्या- 3 .................................................................................................................................. .................................................................................................................................. हस्ता�र मुख्य प�क (3) पृथक्करणीयत प�रच्छेद(Severability Clause) यिद िकसी भी कारण से िकसी प�कार को इस अनुबंध में िलखी गई बातों पर अमल करना असंभ लगने लगे तो भी यह अनुबंध नहीं टूटेगा। ऐसी िस्थित मैं दोनो प�कार िमल कर कोई ऐसा समाध िनकालने क� कौिशश करेंग, िजससे वतर्मान समस्या भी हल भी हो जाये और अनुबंध के मूल प्रा�प कोई िवशेष बदलाव भी नहीं आये। हर तीन महीने बाद इस अनुबंध क� समी�ा क� जायेगी और इसक� सीमा अगले तीन महीने के िलए बढ़ा दी जायेगी। इस तरह यह अनुबंध 10 वषर् तक मान्य रहेगा औ िकसी भी प�रिस्थित में कोई भी प� इस अनुबंध को िनरस्त नहीं कर सकता हस्ता�र अबुर्द हस्ता�र मुख्य प िदनांक स्थान
  • robin225wadhwa

    Jul. 27, 2013

अर्बुद अनुबंध (ट्यूमर कॉन्ट्रेक्ट) यदि किसी को कैंसर हो जाता है तो वह कभी ईश्वर को, कभी कैंसर को या अपनी किस्मत को कोसना शुरू कर देता है। लेकिन यह तो गलत बात है। बेहतर यही है कि आप स्थिति को सहज रूप से स्वीकार करें और अपने विवेक से समुचित उपचार करें। क्यों न आप अपने ट्यूमर से एक आपसी समझौता करने की बात कहें। एक ऐसा समझोता जिसमें दोनों का ही फायदा हो। इसमें आपको अपने आप से एक विधिवत अनुबंध करना पड़ेगा। इस अनुबंध का पहला पक्षकार भी आप हैं अर्थात जो आप आज हैं और दूसरा पक्षकार भी आप ही हैं, लेकिन जो आप आज से 12 महीने बाद होंगे। सुनने में यह बहुत अजीब पागलपन लगता हैं कि हम आपको आप से ही एक अनुबंध करने की बात कह रहे हैं। लेकिन आप याद करने की कौशिश कीजिये, शायद कभी आपने जीवन में इससे भी बड़े कई पागलपन किये होंगे। इस अनुबंध को बनाने से पहले आपको अपने ट्यूमर से खुल कर बात करना जरूरी है, आखिर वह भी तो आपके ही शरीर का हिस्सा है। उसे स्पष्ट समझाइये कि उसका इस तरह बढ़ना आपके स्वास्थ्य के लिए खतरे की बात है, इस तरह तो आपकी मृत्यु भी हो सकती है। यदि आपकी मृत्यु होती है तो उसकी भी मृत्यु निश्चित है। यह बात ट्यूमर को स्पष्ट समझाना बहुत जरूरी है। उससे कहिये कि इससे अच्छा तो यह होगा कि वे एक ऐसा समझौता करलें जिसमें दोनों ही पक्षों का ही फायदा हो और दोनों ही स्वस्थ और निरोगी जीवन जी सकें। इस अनुबंध में तीन अनुच्छेद होंगे। और इस अनुबंध की भूमिका में आप यह वचन देगे कि अगले तीन महीनें में आप अपने जीवन में क्या बदलाव लोयेंगे। जिनको आप अनुबंध के दूसरे अनुच्छेद में लिखेगे। अनुबंध पर हस्ताक्षर करने से पहले आप अपनी बेलेंस शीट, जेफरसन टेस्ट और अपनी डिजायर लिस्ट का एक बार पुनः अवलोकन कर लें। ये आपको उन कार्यो को चुनने में बहुत मदद करेंगे, जो आप अपने जीवन में करन

Views

Total views

350

On Slideshare

0

From embeds

0

Number of embeds

2

Actions

Downloads

3

Shares

0

Comments

0

Likes

1

×